युपीएससी (UPSC) क्या है? पूरी जानकारी.

UPSC के बारे में जानने से पहले मैं आपको PSC के बारे में बताना चाहूँगा | पीएससी. (PSC) यानि Public service commission या लोक सेवा आयोग. यह सरकार की एक ऐसी संस्था हैं जिसके द्वारा ग्रुप A एवं ग्रुप B के यानि प्रथम एवं द्वितीय श्रेणी के अधिकारीयों का चयन करना मुख्य कार्य हैं| इसकी स्थापना आजादी पूर्व सन 1926 में हुई थी | 

युपीएससी (UPSC) क्या है, पूरी जानकारी

आजादी के बाद सन 1950 में  लोक सेवा आयोग (PSC) में कुछ बदलाव कर एवं इसके अधिकारों में विस्तार करके इसे संघ लोक सेवा आयोग  (UPSC) नाम दिया गया | इसका भी मुख्य कार्य प्रथम एवं द्वितीय श्रेणी के अधिकारीयों या सिविल सेवकों का चयन करना हैं | UPSC के माध्यम से ही देश में आईएएस/आईपीएस के आलावा अन्य कई ग्रेड A एवं ग्रेड B के अधिकारीयों की भर्ती की जाती हैं |

युपीएससी (UPSC) द्वारा आयोजित परीक्षाएं

  • सिविल सर्विस एग्जाम (CSE)
  • इंजीनियरिंग सर्विसेज एग्जामिनेशन (ESE)
  • कंबाइंड डिफेन्स सर्विस एग्जाम (CDSE)
  • नेशनल डिफेन्स एग्जाम (NDA)
  • इंडियन फोरेस्ट सर्विस (IFS)

इसके आलावा अन्य कई सारी परीक्षाओं का आयोजन यूपीएससी UPSC द्वारा किया जाता हैं | 

कलेक्टर बनने के लिए देना होती है यह परीक्षा

यदि आप कलेक्टर बनना चाहते हैं तो आपको ग्रेजुएशन के बाद UPSC द्वारा आयोजित CSE (सिविल सर्विस एग्जाम) देना होती हैं |

यह परीक्षा 3 भागों में होती हैं जो इस तरह हैं |

  • प्रारंभिक परीक्षा
  • मुख्य परीक्षा
  • इंटरव्यू

युपीएससी (UPSC) कौन दे सकता हैं ?

शैक्षणिक योग्यता : 

  • ऐसे छात्र जो अपना ग्रेजुएशन पूरा कर चुके हैं |
  • ऐसे छात्र जो अपने ग्रेजुएशन के अंतिम वर्ष अथवा अंतिम सेमिस्टर में अध्यनरत हैं |

उम्र सीमा : 

  • UPSC देने के लिए सामान्य वर्ग के उम्मीदवारों हेतु  न्यूनतम उम्र 21 वर्ष एवं अधिकतम 32 वर्ष हैं (अधिकतम 6 बार)
  • ST – SC उम्मीदवारों को उम्र सीमा में 5 वर्ष की छुट दी जाती हैं | (असीमित 37 वर्ष की उम्र तक) (कोई सीमा तय नहीं है)
  • अन्य पिछड़ा वर्ग के छात्रों को 3 वर्ष उम्र सीमा में छुट दी जाती हैं | (अधिकतम 9 बार या 35 की उम्र तक )

युपीएससी (UPSC) की तैयारी कैसे करें

यह एक बहुत बड़े लेवल पर होने वाली एग्जाम हैं तो इसे आप आसान ना समझें | इस परीक्षा में बहुत तगड़ी प्रतिस्पर्धा  (tough competition) रहता हैं | कई लोग सालों की मेहनत के बाद भी इस परीक्षा में सफल नहीं हो पाते हैं | आप अगर वाकई में इस यूपीएससी में सफल होना चाहते हैं तो  इन बातों का विशेष ध्यान रखना होगा |

इन्टरनेट की मदद : 

आज इन्टरनेट हर व्यकित के पास मोजूद हैं तो बेहतर होगा कि आप उसका सही उपयोग अपने ज्ञान को बढ़ाने में करे एवं पिछले वर्षों के पेपर, जनरल नॉलेज, न्यूज़ आदि पढ़ते रहें | आप हमारी वेबसाइट indergyan.com और Helo App पर @Jobs Bharat & Education को फॉलो कर पढ़ सकते है

कोचिंग ज्वाइन करें : 

देश में कई सारी आईएएस/आईपीएस की तैयारी के लिए कोचिंग हैं जो आप ज्वाइन कर सकते हैं | वहां पर आपको हर नई जानकारी/न्यूज़/सूचना आदि से अपडेट रखा जायेगा एवं आपको एक पढ़ने का माहोल भी मिलेगा | साथ ही साथ कई वर्षों के पेपर एवं स्टडी मटेरियल आदि आपको कोचिंग के द्वारा उपलब्ध कराएँ जायेंगे |

न्यूज़ पेपर :

 यह एक सबसे बेहतरीन तरीका होता है अपने नॉलेज को बढ़ाने के लिए आप हिन्दी एवं इंग्लिश के कई सारे अखबार रोज पढ़ने की आदत डालें | हो सके तो किसी लाइब्रेरी ज्वाइन कर लें जहाँ पर आपको एक साथ सारे अख़बार पढ़ने को मिल जायेंगे |

युपीएससी (UPSC) क्लियर करने के बाद कहाँ जॉब मिलता हैं ?

जैसा कि मैंने ऊपर ही बताया है कि UPSC अलग अलग exam conduct करती हैं, तो यह निर्भर करता है कि आप UPSC द्वारा संचालित कौनसी परीक्षा दे रहें हैं | यदि आप यूपीएससी द्वारा आयोजित CSE सिविल सर्विस एग्जाम क्लियर कर लेते हैं तो आप ग्रुप अ के अधिकारी जैसे कलेक्टर, अपर कलेक्टर, सचिव आदि पदों पर जा सकते हैं |

CSE के आलावा अन्य कई exam  जैसे ESE, CDS, NDA आदि कई तरह की exam UPSC द्वारा आयोजित की जाती हैं | जिस तरह की परीक्षा देंगे आपका वैसे ही सिलेक्शन होगा |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *